Bsc 2nd year zoology syllabus 2022 In Hindi | बीएससी सेकंड ईयर जूलॉजी सिलेबस

Bsc 2nd year zoology syllabus 2022 in hindi, B.sc 2nd year zoology syllabus, bsc second year zoology syllabus 2022, bsc 2nd year syllabus zoology 2022, second year zoology bsc 2nd year syllabus, बीएससी सेकंड ईयर जूलॉजी सिलेबस, बीएससी सेकंड ईयर जूलॉजी सिलेबस 2022, बीएससी सेकंड ईयर जूलॉजी का सिलेबस

आज आपको इस पोस्ट के माध्यम से ये जानकारी मिलेगी की बीएससी सेकंड ईयर जूलॉजी सिलेबस के अंदर कितने विषयों की पढाई होती है और उनके अंदर कितने यूनिट बने हैं जिन्हें भी ध्यान में रखना होता है | आपको जूलॉजी सिलेबस की पूरी जानकारी यहाँ दी जाएगी | यूनिवर्सिटी के हिसाब से इसमें कुछ बदलाव हो सकता है, यहाँ दी गयी जानकारी विषय के अनुरूप दी गयी है न की सभी राज्यों की यूनिवर्सिटी के द्वारा निर्धारित |

Bsc 2nd Year Zoology Syllabus 2022 Hindi Me

इस पोस्ट में ये बताया जा रहा है की zoology syllabus के अन्दर कौन से यूनिट पढाये जाते हैं, ये एक कॉमन फॉर्मेट के तहत बताया गया है | यहाँ बताया जायेगा की बीएससी के द्वितीय वर्ष में जूलॉजी के अंदर कितने विषय हैं | 


Bsc 2nd year zoology syllabus
Bsc 2nd year zoology syllabus 


Semester I - सेमेस्टर 1 में क्या पढना है?

आपको बता दें की Bsc 2nd year के zoology syllabus में पहले सेमेस्टर में 3 पेपर होते हैं, जिनमे फर्स्ट पेपर में अनुसंधान क्रियाविधि (Research Methodology) की पढाई होती है और इसका टोटल मार्क्स 100 होता है क्रेडिट पॉइंट 4 के साथ | दुसरे पेपर में जीव विज्ञान में हालिया प्रगति (Recent Advances in Biology) की पढाई होती है, ये भी टोटल 100 मार्क्स का होता है | तीसरे पेपर में नेमाटोलॉजी में प्रगति (Advances in Nematology) की पढाई होती है, इसका भी क्रेडिट पॉइंट 4 होता है और टोटल मार्क्स 100 |

Semester II  - सेमेस्टर 1 में क्या पढना है?

अब आते हैं की zoology के 2nd year syllabus में | इसके फोर्थ पेपर के तहत क्रस्टेशियन एंडोक्रिनोलॉजी और प्रजनन, मानव आनुवंशिकी, प्रदूषण जीवविज्ञान, पर्यावरण शरीर क्रिया विज्ञान, वन्यजीव पारिस्थितिकी और प्रबंधन, लिम्नोलॉजी आदि की पढाई करनी होती है | जिसमे क्रेडिट स्कोर 4 होता है और मार्क्स 100 होते हैं | पांचवे पेपर में कीट जीव विज्ञान और कीट प्रबंधन में प्रगति, कीट कीट नियंत्रण और विष विज्ञान, पारिस्थितिकी विष विज्ञान, जलीय कृषि और मत्स्य पालन, प्रोटिओमिक्स और मॉलिक्यूलर सेल फिजियोलॉजी, संरक्षण जीवविज्ञान की पढाई छात्रों को करनी पड़ती है और छठे पेपर में निबंध के साथ वाइवा वॉयस 50 अंक और निबंध 150 अंक का होता है, इसमें कुल मार्क्स 200 का होता है और क्रेडिट स्कोर 8 का होता है |

अब पेपर-I जिसमे अनुसंधान पद्धति (Research Methodology) की पढाई होती है, उसके यूनिट के हिसाब से डिटेल्स ये हैं |

प्रथम यूनिट - सिद्धांत और आवेदन (Principles And Application)

द्वितीय यूनिट - पृथक्करण और विश्लेषणात्मक तकनीक (Separation And Analytical Techniques)

तृतीय यूनिट - हिस्टोलॉजिकल और हिस्टोकेमिकल तरीके (Histological And Histochemical Methods)

चतुर्थ यूनिट - डेटा प्रोसेसिंग और विश्लेषण (Data Processing And Analysis)

पांचवी यूनिट - शोध के तरीके और थीसिस लेखन (Research Method And Thisis Writing)

पेपर 2 जिसमे जीव विज्ञान में हालिया प्रगति (Recent Advances in Biology) की पढाई होती है उसके यूनिट निम्न हैं |

प्रथम यूनिट - आणविक जीव विज्ञान (Molecular Biology)

द्वितीय यूनिट - इम्मुनोलोगि (Immunology)

तृतीय यूनिट - पर्यावरण प्रदूषण (Environment Pollution)

चतुर्थ यूनिट - माइक्रोबियल जेनेटिक्स (Microbial Genetics)

पांचवी यूनिट - जैव प्रौद्योगिकी (Biotechnology)

पेपर 3 जिसमे एडवांस नेमाटोलॉजी की पढाई होती है उसमे यूनिट 1 से यूनिट 5 तक सम्मलित होता है और प्रत्येक यूनिट में कई विषय पढाये जाते हैं | 

पेपर 4 में क्रस्टेशियन एंडोक्रिनोलॉजी और प्रजनन (Crustacean Endocrinology and Reproduction) की पढाई होती है और इसमें भी विषयों को पांच यूनिट में बांटा गया है |

प्रथम यूनिट - क्रस्टेशिया की सामान्य जीवविज्ञान

द्वितीय यूनिट - क्रस्टेशिया की न्यूरो-एंडोक्राइन प्रणाली

तृतीय यूनिट - क्रस्टेशिया का एक्वाकल्चर

चतुर्थ यूनिट - क्रस्टेशिया के विष विज्ञान और विकृति विज्ञान

पांचवी यूनिट - क्रस्टेशिया की जेनेटिक इंजीनियरिंग और बायोटेक्नोलॉजी

पेपर 4 के दुसरे भाग में मानव आनुवंशिकी की पढाई होती है और इसमें भी पांच यूनिट होती है, जिसमे कई और टॉपिक को सम्मलित किया गया है यूनिट के हिसाब से | प्रत्येक यूनिट में चार से पांच टॉपिक्स को कवर किया जाता है | पेपर 4 के एक भाग में मानव आनुवंशिकी पर फोकस किया गया है और पांच यूनिट को शामिल किया गया है | पेपर चार में ही पर्यावरण शरीर क्रिया विज्ञान और उसके 5 यूनिट, वन्यजीव पारिस्थितिकी और प्रबंधन और उसके पांच यूनिट के साथ ही limnology के पांच यूनिट को लिया गया है |

पेपर 5 में कीट जीव विज्ञान और कीट प्रबंधन में प्रगति को कवर किया गया है इसके पांच यूनिट में जीवविज्ञान, पारिस्थितिकी, कीट कीटों का रासायनिक नियंत्रण, गैर-रासायनिक नियंत्रण और कीट कीट, एकीकृत हानिकारक कीट प्रबंधन को शामिल किया गया है | पेपर 5 के दुसरे भाग में कीट कीट नियंत्रण और विष विज्ञान के पांच यूनिट को लिया गया है और इसी के अगले भाग में इको टॉक्सिकोलॉजी के पांच भाग को | पेपर 5 के चोथे संस्करण में जलीय कृषि और मत्स्य पालन के पांच यूनिट का समायोजन है और इसके 5वें संस्करण में प्रोटिओमिक्स और आण्विक सेल फिजियोलॉजी के पांच यूनिट हैं |

पेपर 5 के छठे संस्करण में संरक्षण जीवविज्ञान को शामिल किया गया है और उसके पांच यूनिट हैं |

प्रथम यूनिट - सिस्टमेटिक बायोलॉजी

द्वितीय यूनिट - संरक्षण जीवविज्ञान

तृतीय यूनिट - संरक्षण: पशु संरक्षण में उपकरण

चतुर्थ यूनिट - भारत में पशु कानून और नीतियां; जैव विविधता संरक्षण के अर्थशास्त्र

पांचवी यूनिट - संरक्षण जीव विज्ञान में तकनीक

आपको अगर इस पोस्ट की जानकारी अच्छी लगी हो तो कमेंट करें और सब्सक्राइब करे |

टिप्पणियाँ

Popular Post Of Website TNM

BA 1st Year Hindi 1&2 Most Important Question 2022

BA 1st Year Political Science 1&2 Important Question 2022 In Hindi

BA 1st Year History 1&2 Most Important Questions 2022 In Hindi

BA 1st Year English 1&2 Most Important Questions 2022

BA 1st Year Sociology 1&2 Important Questions 2022 In Hindi

BA 1st Year Geography 1&2 Important Questions 2022 In Hindi

Bsc 1st Year Zoology Syllabus 2022 In Hindi | बीएससी फर्स्ट ईयर जूलॉजी सिलेबस हिंदी में

BSC 1st Year Botany 1st Paper Important Question 2022 In Hindi