बायजू के अब तक के सबसे बड़े अधिग्रहण के बाद आ रहा है आईपीओ | Byju’s IPO

जैसा की आप सभी को पता है की Byju आज एक बड़ी संस्था बन गयी है | इस संस्था का काम बच्चो को ऑनलाइन शिक्षा मुहया कराना है | इस आर्गेनाइजेशन ने हाल में ही एक बड़े कोचिंग संस्थान का अधिग्रहण किया है और अब ये बात चर्चा में है की बायजू के अब तक के सबसे बड़े अधिग्रहण के बाद आ रहा है आईपीओ| Byju’s IPO को आने वाले 2 वर्षो में लांच की योजना है |

इस भारतीय बहुराष्ट्रीय शैक्षिक प्रौद्योगिकी कंपनी ने 2023 के पहले ही अपनी संस्थान को सार्वजनिक रूप से खोलने की तैयारी कर ली है | हाल में भारतीय बहुराष्ट्रीय शैक्षिक प्रौद्योगिकी कंपनी ने आकाश एजुकेशनल सर्विसेज लिमिटेड (AESL) का अधिग्रहण कर के सभी को चौका दिया था | इस कारण से बाज़ार में इस कंपनी की साख में जबरदस्त बढ़ोतरी दर्ज की गयी है | 


बायजू, Byju’s IPO
Byju Raveendran, Founder Of Byju's App

Byju's owner ने इन बातों की जानकारी को खुद ही साझा किया है | बायजू रविन्द्रन ही इस कंपनी के संस्थापक है और उन्ही के देखरेख में आकाश एजुकेशनल सर्विसेज लिमिटेड का अधिग्रहण (Byju's and akash deal) किया गया है | इस अधिग्रहण को $ 1 बिलियन (लगभग 7,300 करोड़ रुपये) में फाइनल किया गया है | बायजू का ये सबसे बड़ा अघिग्रहण है |

बायजू रविन्द्रन के अनुसार ये अधिग्रहण शिक्षा के क्षेत्र में एक मील का पत्थर साबित होगा और ऑफलाइन के साथ ही ऑनलाइन शिक्षा को बल और प्रोत्साहन मिलेगा | इसे उन्होंने हाइब्रिड मॉडल ऑफ़ टीचिंग का नाम दिया और बायजू को एक बेहतरीन प्लेटफार्म के रूप में इंगित किया | byju's classes आज के समय में बच्चों के लिए एक नया और अच्छा प्लेटफार्म साबित भी हो रहा है |

बायजू रविन्द्रन कहते हैं, “हम खुद एक हाइब्रिड मॉडल (परीक्षण की तैयारी के लिए) बना सकते थे, लेकिन इसके निर्माण में 2-3 साल तक का समय लगेगा और इसके परिणाम दिखने में पांच साल का समय भी लग सकता है| इसलिए बायजू रविन्द्रन ने आकाश एजुकेशनल सर्विसेज लिमिटेड के साथ तालमेल किया |

बायजू के संस्थापक ने इस बात को भी जोड़ा की उन्हें इस बात की जानकारी है की ऑनलाइन शिक्षा के दौरान बच्चो में उतनी ही स्पर्धा, उत्सुकता और फोकस को बनाये रखना कितना मुश्किल है | ऑफलाइन शिक्षा में बच्चे और शिक्षक एक दुसरे से बातचीत करते हैं और ये चीजे एक ग्रुप में होती हैं जो की शिक्षा का एक महत्वपूर्ण अंग है |

ब्याजू के संस्थापक का ये कदम आने वाले समय में शिक्षा जगत में खड़ी होने वाली मुसीबतों को ध्यान में रख कर उठाया गया है | आज जिस प्रकार कोरोना वायरस के कारण लॉक डाउन हो रहा है उससे बच्चो की शिक्षा का समय भी बर्बाद हो रहा है | 

ऑनलाइन शिक्षा आज की मांग है जो बच्चो को सुरक्षा के साथ उनके समय को बर्बाद होने से भी बचाती है |बायजू एक वैल्युएबल एड-टेक स्टार्टअप कंपनी है और आने वाले समय में इसके ग्रोथ में जबरदस्त उछाल आ सकती है |

आपको ये पोस्ट 'बायजू के अब तक के सबसे बड़े अधिग्रहण के बाद आ रहा है आईपीओ' अगर अच्छी लगी हो तो सब्सक्राइब करे |

इन्हें भी पढ़े 

ओटीपी का मतलब क्या होता है बताये 

जनरल नॉलेज के बीस मजेदार सवाल जवाब हिंदी में

क्या आप जानते हैं इन रोचक General Knowledge Questions के जवाब

क्या आप जानते हैं ये रोचक तथ्य Taj Mahal के बारे में

सबसे अच्छी कौन सी किताब है GK Quiz के लिए बताये

जनरल नॉलेज के बीस मजेदार सवाल जवाब हिंदी में

इन्हें भी पढ़े

ये रिश्ता क्या कहलाता है में करण कुंद्रा की एंट्री के फर्स्ट-लूक मे क्या है खास

एलन मस्क टेस्ला में 10 हज़ार लोगों को रोजगार देंगे, डिग्री जरुरी नहीं