Ujjain Tourist Places In Hindi | उज्जैन के पर्यटन स्थल

उज्जैन के पर्यटन स्थल जिसे आप जानते हैं | थोड़ी मुश्किल हो रही होगी, तो आज हम इससे सम्बंधित जानकारियों को इस पोस्ट के माध्यम से लेने की कोशिश करेंगे | वैसे तो भारत के सभी शहर अपने आप में इतिहास संजोये हैं और कुछ न कुछ उस शहर की खासियत रही है | बहुत से पुरातन काल से चले आ रहे तथ्य और सभ्यता की जानकारी उस शहर में रह रहे लोगों को रहती है |

उन्ही शहरों में से एक शहर है उज्जैन (ujjain)| ये शहर भारत के एक बड़े राज्य मध्य प्रदेश में स्थित है और अपने दर्शानिय स्थलों के लिए भी प्रसिद्द है | ये शहर क्षिप्रा या यो कहे शिप्रा नदी के किनारे पर स्थित है | 

हर साल शनिश्वरी अमावस्या को लोग शिप्रा नदी के त्रिवेणी घाट पर स्नान करते हैं, इस दिन को शनि देव की पूजा करने के लिए लोग घाट पर आते हैं और उनकी पूजा करते हैं | इस दिन पितरो के तर्पण को भी खास माना गया है | 

उज्जैन का भजन वीडियो में महाकाल की महिमा पर गीत भी सुनने को मंदिरों में मिलता है | दूर दूर से लोग उज्जैन के महाकाल के दर्शन के लिए भी उज्जैन आते हैं इसलिए उज्जैन काल भैरव की स्थली के रूप में भी विख्यात है | उज्जैन का मेला, भस्म आरती की भी अपनी एक छटा है |

भारत के इतिहास में इस शहर का महत्वपूर्ण स्थान है जो आदि काल से चला आ रहा है | किसी समय ये भारत के महान और शक्तिशाली सम्राट विक्रमादित्य की राजधानी हुआ करती थी | सम्राट विक्रमादित्य गर्दभिल्ल वंश के सम्राट थे और इस राज्य और उसमे स्थित उज्जैन शहर कालिदास की नगरी के रूप में भी प्रचारित और प्रख्यात है | 

महाकवि कालिदास राजा विक्रमादित्य के राज के नवरत्नों में गिने जाते थे | आपको बता दे की उज्जैन का पौराणिक नाम अवन्तिका था | उज्जैन अपने धार्मिक और दर्शनीय स्थल के लिए भी प्रसिद्ध है और इंटरनेट पर इस के बारे में बहुत सर्च किया जाता है | आज आपके समक्ष उज्जैन के दर्शनीय स्थल और उज्जैन के इतिहास की जानकारी साझा कर रहे हैं |


उज्जैन के पर्यटन स्थल
उज्जैन के पर्यटन स्थल

उज्जैन दर्शनीय स्थल | 15 उज्जैन के पर्यटन स्थल | Ujjain Tourist Places In Hindi

  1. महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग - इसकी गणना 12 ज्योतिर्लिंगों में की जाती है और उज्जैन को महाकाल की नगरी के नाम से भी जानते हैं |
  2. श्री बड़े गणपतिजी का मंदिर - इस मंदिर में पंचमुखी हनुमानजी की भी एक मूर्ति स्थापित है जो बहुत ही आकर्षक है |
  3. श्री हरसिद्धिदेवी का मंदिर - ये एक सिद्ध शक्तिपीठ है और उज्जैन के राजा विक्रमादित्य इन्हें कुलदेवी के रूप में पूजा करते थे |
  4. श्री गोपाल मंदिर उज्जैन - नगर का दूसरा सबसे बड़ा मंदिर है 
  5. श्रीराम-जनार्दन मंदिर और श्री चारधाम मंदिर
  6. उज्जैन में कालियादेह महल 
  7. श्री काल भैरव मंदिर उज्जैन - छ: हजार साल पूराना मंदिर, ये मंदिर महाकाल मंदिर से मात्र 5 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है |
  8. श्री मंगलनाथ मंदिर - ऐसी मान्यता है की यहाँ पूजा करने से कुंडली में स्थित मंगल ग्रह शांत रहता है 
  9. वेधशाला - उज्जैन की इस वेधशाला का निर्माण राजा जयसिंह ने करवाया था 
  10. राजा भर्तहरि गुफा - राजा भर्तृहरि की ये गुफा भी एक दर्शानिय स्थल में रूप में प्रसिद्ध है 
  11. सांदिपनी आश्रम - ऋषि सांदीपनि के नाम पर इस आश्रम का नाम पड़ा और ये भगवान श्रीकृष्ण के  विद्यारंभ संस्कार के कारण से प्रसिद्ध हुआ था 
  12. नगरकोट की रानी - प्राचीन उज्जैन की ये नगर सुरक्षा देवी थी 
  13. गढ़कालिका देवी मंदिर - उज्जैन के कालीघाट पर ये मंदिर स्थित है और ऐसा कहा जाता है की कालिदास के द्वारा यहाँ पूजा करने के कारण से ही उनका व्यक्तित्व इतना निखरा था |
  14. नवग्रह शनि मंदिर 
  15. चिंतामण गणेश मंदिर - ये मंदिर उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर से करीब 6 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है यहाँ भगवान् गणेश की प्रतिमा है और उन्हें चिंतामण गणेश के नाम से ही जाना जाता है |

आपको इस पोस्ट में दिए गए उज्जैन के पर्यटन स्थल की जानकारी कैसी लगी, हमें कमेंट कर के बताये | अगर ये पोस्ट आपको अच्छी लगी हो तो आप सब्सक्राइब करे |

उज्जैन का इतिहास के बारे में

  • जयगुरुदेव सत्संग आश्रम उज्जैन में कहाँ है - उज्जैन के पिंग्लेश्वर में 
  • उज्जैन का महाकालेश्वर मंदिर कहाँ है - जयसिंहपुरा, उज्जैन, मध्य प्रदेश
  • महाकालेश्वर मंदिर का रहस्य - राक्षस को मारने के लिए शिव का लिंग काल बन कर आया और उज्जैन यानि उस समय के अवान्तिपूरा के लोगों के आग्रह पर यहीं स्थापित हो गया 
  • उज्जैन क्यों प्रसिद्ध है? - उज्जैन महाकाल ज्योतिर्लिंग के स्थापित रहने के कारण से एक दर्शानिये और लोगों की आस्था का केंद्र बन गया | इसके साथ यहाँ कई तीर्थ स्थल भी मौजूद हैं जिससे इसकी प्रसिद्धी में चार चाँद लग गए | प्रत्येक वर्ष महाकाल की शाही सवारी भी सावन के समय में निकली जाती है जो अद्भुत होती है इन्ही कारणों से उज्जैन प्रसिद्ध है |
  • उज्जैन कौन से राज्य में है और कहाँ है ? - मध्य प्रदेश में 
  • उज्जैन कब जाना चाहिए? - वैशाख पूर्णिमा, कार्तिक पूर्णिमा और दशहरे के समय यहाँ बड़ा मेला लगता है उस समय उज्जैन जाना चाहिए जिससे वहाँ की संस्कृति का महसूस किया जा सके |
  • उज्जैन कैसे जाएं? - सबसे नजदीकी एअरपोर्ट इंदौर है वहाँ से आप बस द्वारा उज्जैन जा सकते हैं | आप लगभग 1 घंटे में 58 किलोमीटर की दूरी तय कर के यहाँ पहुँच सकते हैं | रेल मार्ग से भी उज्जैन जुड़ा हुआ है | बस के अलावा आप टैक्सी भी ले सकते हैं |
  • महाकाल मंदिर की स्थापना कब हुई? - धर्मग्रंथो की माने तो छठी शताब्दी से महाकाल मंदिर का उल्लेख मिलता है जबकि दूसरी शताब्दी में इसके अवशेष भी मिलते हैं |
  • उज्जैन का मतलब क्या होता है? - मालवा की एक प्राचीन राजधानी
  • उज्जैन कौन सी दिशा में है? - दक्षिण दिशा में 
  • उज्जैन में कौन सी नदी है? - शिप्रा नदी हैं और इसे मोक्षदायनी नदी भी कहाँ जाता है |
  • महाकाल मंदिर कितने साल पुराना है? - करीब 1000 साल पूराना 
  • उज्जैन की जनसंख्या कितनी है 2021 - लगभग 2325426
  • उज्जैन की प्रमुख पहचान क्या है? - महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग
  • शिप्रा नदी किसकी सहायक नदी है? - खान और गंभीर इसकी सहायक नदी हैं साथ ही शिप्रा नदी का उद्गम स्थल विन्ध्याचल पर्वत शृंखला है |
  • शिप्रा नदी की लंबाई कितनी है? - लगभग 195 किलोमीटर 
  • उज्जैन की राजधानी कहां है - पूर्व में उत्तरी भाग की राजधानी उज्जैन और दक्षिणी भाग की महिष्मति थी 
  • कानपुर से उज्जैन कितने किलोमीटर है - लगभग 674 किलोमीटर और इसे लगभग 10 घंटे में सड़क मार्ग से पूरा किया जा सकता है |
  • उज्जैन से सोमनाथ की दूरी कितनी है - ट्रेन से 883 किलोमीटर के लगभग 

कुछ और भी प्रश्नों को यहाँ समाहित करने का प्रयास किया गया है शायद ये आपके लिए आवश्यक हो |

Tag: #उज्जैन_दर्शन

टिप्पणियाँ

Popular Post Of Website TNM

BA 2nd Year History 1&2 Most Important Questions 2022 In Hindi

BA 2nd Year Sociology 3&4 Important Questions 2022 In Hindi

BA 2nd Year Political Science Paper 2 Subsidiary Questions 2022 In Hindi

Bsc 2nd year Inorganic Chemistry Most important Questions 2022 In Hindi

Bsc 2nd Year Botany 1st Paper Important Question 2022 In Hindi