हिन्दू धर्म कितना पुराना है ?

चलिए आज जानते हैं की हमारा हिन्दू धर्म कितना पुराना है | वैसे तो सभी जानते हैं की भारत में धर्म का प्रचलन बहुत ही पुराना है हमारी संस्कृति का आधार ही धर्म है | भारत में कई धर्म के लोग रहते हैं और सभी एक दूसरे के धर्मो का आदर करते हैं | 

धर्म अपनी विशिष्टता के लिए ही जाने जाते हैं | हिन्दू धर्म में देवी देवतावो का महत्व है लोगो की आस्था है और संस्कृति भी | भारत के कई तीर्थ स्थल हिन्दू धर्म की प्रमाणिकता को बताते हैं | कई पीठ लोगो के लिए आज भी कौतुहल का विषय है उन स्थल की विशिष्टता का बखान वे अन्य लोगो से भी करते हैं खास कर सैलानियों से| जैसे बनारस का गंगा घाट हो, थावे की दुर्गा जी का पीठ हो, पटनदेवी के मंदिर की बात हो आदि| 


हिन्दू धर्म कितना पुराना है
हिन्दू धर्म कितना पुराना है ?

हिन्दू धर्म की बात करे तो हिन्दू धर्म सबसे प्राचीन सनातन धर्म है और इसे विश्व के प्राचीनतम धर्म की भी संज्ञा दी गयी है | हिन्दू धर्म के अनुयायी कई देशो में फैले हुयें हैं जो इसके महत्व का प्रचार और प्रसार करते हैं जैसे - नेपाल, मौरिसश, भारत आदि | नेपाल को तो हिन्दू राष्ट्र ही माना जाता है | 

रामायण की कथा नेपाल में भी प्रचलित है और सीता के वनवास के साथ ही लव कुश का जन्म स्थल भी नेपाल में ही पड़ता है | इसलिए हिन्दू धर्म को मानने वाले नेपाल में अच्छे खासे लोग हैं | 

यहाँ पर आपको ये भी जानकारी दे दे की हिन्दू धर्म को सनातन धर्म इस लिए भी कहा जाता है की ऐसा माना जाता है की हिन्दू धर्म की उत्पत्ति मानव जाती के पहले ही हो चुकी है | इसलिए इसे सबसे प्राचीन धर्म कहा जाता है|

हिन्दू धर्म में सबसे ज्यादा पूजनीय वेद को माना जाता है | ऐसा माना जाता है की वेदों की रचना किसी एक काल में नहीं हुईं | इसकी रचना में बहुत समय लगा और तब जा के इसका संकलन तीन भागो में किया गया, जिसका नाम है ऋग्वेद, यजुर्वेद और सामवेद | वेद व्यास ऋषि ने इसे लिपिबद्ध किया था | 

हिन्दू धर्म की उत्पत्ति 4500 ईसापूर्वा की मानी जाती है, ऐसा माना जाता है की हिन्दू धर्म का फैलाव मध्य एशिया से हिमालय तक था | इसे ही हिन्दू धर्म की शुरुआत का काल माना जाता है |

धार्मिक ग्रंथो की बात की जाये तो रामायण, महाभारत के समय भी हिन्दू धर्म का प्रचलन था और इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं की ये धर्म कितना पुराना है | चुकी उस काल के सभी तथ्यों को लिपिबद्ध करना आसान नहीं था इसलिए इनके पुराने होने की संभावित तिथि को ही इंगित किया जा सकता है |

हिन्दू धर्म में मनुवो का भी उल्लेख मिलता है और कहा जाता है की मनु ही धरती का पहला मानव था | इसके अनुसार पहला मानव 'मनु' थे और महिला का नाम 'सतरूपा' था | मनु को ही हिन्दू धर्म का संस्थापक माना जाता है |

वर्तमान के शोध को ध्यान में रखे तो हिन्दू धर्म का उद्भव करीब 24 हज़ार वर्ष पहले हुआ था | ऐसा भी माना जाता है की हिन्दू धर्म के विचार लगातार विकसित होते रहे हैं और करीब 7 चरणों में इसके विस्तार का इतिहासकारो ने आंकलन किया है लेकिन वो भी हिन्दू धर्म के उद्भव का सही आंकलन नहीं कर पाए | ऐसा भी कहा जा रहा है की सनातन धर्म की उत्पत्ति आज से 15 हज़ार वर्ष पूर्व ही हो गया था |

कुछ पूरानी मान्यतावो पर ध्यान देने पर ये भी निकल के आता है की हिन्दू धर्म 90 हज़ार वर्ष पुराना है 9057 ईसापूर्व मनु हुयें साथ ही 5114 ईसा पूर्व श्रीराम का आगमन हुआ | जो हिन्दू धर्म के अति प्राचीन होने की गवाही देता है | अब ये बात साफ़ हो गयी होगी की सनातन धर्म से पहले कौन सा धर्म था? | 

आपने इस पोस्ट के माध्यम से ये जान ही लिया होगा की हिन्दू धर्म कितना पुराना है, हिन्दू धर्म क्या है, इसकी विशेषता क्या है, कैसे सबसे पुराना धर्म है, कैसे सबसे महान धर्म है और कैसे ये हमारी संस्कृति का धोतक है | अगर पोस्ट अच्छी लगी तो सब्सक्राइब और लाईक करे |

इन्हें ही पढ़े 

ट्रेन का आविष्कार किसने किया था उसका नाम बताइए

फिल्म शूटिंग के दौरान हादसे से मरने वाले अभिनेता

ऐसा कौन सा पक्षी है जो उड़ नहीं सकता?

सबसे ताकतवर मुस्लिम देश कौन सा है

साइकिल का आविष्कार किसने किया था और कब किया था

दुनिया में कुल कितने देश है 2021 में

टिप्पणियां

इन्हें भी पढ़े

दशहरा क्यों मनाया जाता है बताओ

Jijaji Chhat Par Hai के दूसरे सीजन के साथ हिबा नवाब की वापसी

महाभारत का युद्ध कितने दिन चला था बताएं

सबसे अच्छी कौन सी किताब है GK Quiz के लिए बताये